vanvaas

राम ने सीता को वनवास क्यों दिया?-भाग 62

राम के राज्याभिषेक के बाद की घटनाओं का वर्णन रामायण के अंतिम अध्याय यानि कांड में है जिसे उत्तर कांड कहते हैं। उत्तरकाण्ड का आशय ऐसे काण्ड (अध्याय) से है जो अभी तक घटित नहीं हुआ था, लेकिन अपनी दिव्य दृष्टि के कारण वाल्मीकि भविष्य में होने वाली घटनाओ को देख पाए थे और उसी …

राम ने सीता को वनवास क्यों दिया?-भाग 62 Read More »

उत्तरकांड से संबन्धित विवाद क्या है?-भाग 61

उत्तरकाण्ड क्या है? राम के राज्याभिषेक के बाद की घटनाओं का वर्णन रामायण के अंतिम अध्याय यानि कांड में है जिसे उत्तर कांड कहते हैं। इसे राम के जीवन के उत्तार्ध भाग या राज्याभिषेक के बाद यानि उत्तरवर्ती होने के कारण उत्तरकाण्ड नाम दिया गया है। रामायण के आरंभ में इस महाकाव्य की रचना के …

उत्तरकांड से संबन्धित विवाद क्या है?-भाग 61 Read More »

राम अयोध्या लौटने पर सबसे पहले किससे मिले?-भाग 60

हनुमान ने राम की आज्ञा के अनुसार उनके अयोध्या आगमन की शुभ सूचना नंदीग्राम में जाकर दे दिया। उन्होने चित्रकूट के बाद के राम वनवास का सारा समाचार भी उन्हें बताया। राम के पुष्पक विमान द्वारा अयोध्या आगमन की खबर जल्दी ही सारी अयोध्या में फैल गई। उनके आगमन की स्वागत के लिए रास्तों को …

राम अयोध्या लौटने पर सबसे पहले किससे मिले?-भाग 60 Read More »

सीता की अग्नि परीक्षा-भाग 58

सीता की अग्नि परीक्षा रामायण के सबसे विवादित प्रसंगों में से एक है। इस प्रसंग के आधार पर राम को शताब्दियों से स्त्री विरोधी और कमजोर पति तक कहा जाता रहा है। विवाद दो प्रश्नों पर हैं: पहला, क्या सीता की अग्नि परीक्षा और फिर बाद में उनका वनवास मूल रामायण का भाग है? दूसरा, …

सीता की अग्नि परीक्षा-भाग 58 Read More »

राम ने रावण का वध कैसे किया?-भाग 56

मेघनाद वध के बाद रावण के भेजे गए तीनों अंतिम सेनापति भी मारे गए। रावण का स्वयं युद्ध भूमि में आना भी उसकी सेना के लिए अधिक कारगर नहीं हो सका। रावण ने विभीषण को मारने के लिए उन पर शक्ति चलाया जिसे आगे बढ़ कर लक्ष्मण ने अपनी छाती पर झेल लिया। पहले भी …

राम ने रावण का वध कैसे किया?-भाग 56 Read More »

हनुमान जी किसके लिए संजीवनी बूटी लाने गए थे?-भाग 55   

लक्ष्मण के घायल होने और उनके उपचार के संबंध में कुछ विवादास्पद सवाल तुलसीकृत रामचरित मानस और वाल्मीकिकृत रामायण में विवरणों के कई प्रसंग में अंतर है। रामचरितमानस और अन्य कई ग्रन्थों के आधार पर सामान्यतः माना जाता है कि मेघनाद से युद्ध में लक्ष्मण को शक्ति लगी थी। इससे वे बहुत घायल और बेहोश …

हनुमान जी किसके लिए संजीवनी बूटी लाने गए थे?-भाग 55    Read More »

ram ravan yuddh

राम-रावण युद्ध में रावण का अंतिम सेनापति कौन था?- भाग 54

अपने परम पराक्रमी पुत्र मेघनाद जो कि अब लंका के लिए अंतिम उम्मीद था, के युद्ध में लक्ष्मण के हाथों मारे जाने पर लंका की सेना और स्वयं रावण का जीत की रही-सही उम्मीद भी जाती रही। अब युद्ध में भेजने योग्य कोई बड़ा योद्धा जीवित नहीं रह गया था। अब वह बहुत ही कातर …

राम-रावण युद्ध में रावण का अंतिम सेनापति कौन था?- भाग 54 Read More »

meghnad vadh

मेघनाद का वध किसने किया?-भाग 53         

अभी तक कुंभकर्ण सहित अधिकांश राक्षस सेनापति युद्ध में मारे जा चुके थे। स्वयं रावण भी राम के हाथों अपमानजनक रूप से पराजित हो चुका था। वानर सेना द्वारा लंका नगर में हमला से स्पष्ट हो चुका था कि अब राक्षस शक्ति इतनी सक्षम भी नहीं रही गई थी कि अपने नगर की रक्षा कर …

मेघनाद का वध किसने किया?-भाग 53          Read More »

sugriv

सुग्रीव ने रात को लंका नगर पर आक्रमण क्यों किया?-भाग 52

मेघनाद के क्षणिक जीत से राक्षसों का मनोबल फिर बढ़ गया था। इधर घायल और मरे हुए राम सेना के जीवित और स्वस्थ होने से उनका मनोबल भी बढ़ गया था। सामान्यतः रात में युद्ध नहीं होता था लेकिन ये नियम तो राक्षस सेना पहले दिन से ही तोड़ चुकी थी। अब युद्ध दिन रात …

सुग्रीव ने रात को लंका नगर पर आक्रमण क्यों किया?-भाग 52 Read More »

meghnad

मेघनाद दुबारा युद्ध में क्यों आया?-भाग 51          

राम-रावण युद्ध में अब तक कुंभकर्ण सहित लगभग सारे प्रमुख योद्धा और सेनापति मारे जा चुके थे। स्वयं रावण भी एक बार राम से हार चुका था। केवल मेघनाद ही ऐसा योद्ध था जो बिना हारे या मरे युद्धभूमि से लौटा था। इतना ही नहीं उसने राम-लक्ष्मण को घायल भी कर दिया था। अतः पिता …

मेघनाद दुबारा युद्ध में क्यों आया?-भाग 51           Read More »

Scroll to Top