jumpingrabbit

नन्दजी को वरुण ने क्यों कैद किया और गोपों को श्रीकृष्ण ने कैसे अपने धाम का दर्शन कराया?- भाग 25            

वरूण देव के रक्षकों द्वारा नंदजी को पकड़ लेना एक बार की बात है। नंदजी ने कार्तिक शुक्ल एकादशी का उपवास किया और भगवान की पूजा की। उसी रात में द्वादशी लगने पर स्नान के लिए यमुना जल में प्रवेश किया। इस समय अधिक रात्री थी, जो कि असुरों का समय होता है। उस समय …

नन्दजी को वरुण ने क्यों कैद किया और गोपों को श्रीकृष्ण ने कैसे अपने धाम का दर्शन कराया?- भाग 25             Read More »

कृष्ण का गोविंद पद पर अभिषेक किसने और क्यो किया था?-  भाग 24

श्रीकृष्ण द्वारा गोवर्धन उठाने के बाद इंद्र का पश्चाताप देवराज इन्द्र ने क्रोध और अभिमान में आकर ब्रज भूमि को डुबाने के लिए अपने मेघों को भेज दिया लेकिन बाद में उन्हें अपनी भूल पर पश्चाताप हुआ। वे श्रीकृष्ण से क्षमा मांगने आए। गोलोक से कामधेनु गाय भी उसी समय श्रीकृष्ण को बधाई देने के …

कृष्ण का गोविंद पद पर अभिषेक किसने और क्यो किया था?-  भाग 24 Read More »

श्रीकृष्ण ने गोवर्धन पर्वत को क्यों उंगली पर उठाया?- भाग 23

श्रीकृष्ण द्वारा इंद्र यज्ञ रोकना एक दिन श्रीकृष्ण ने देखा कि ब्रज में सभी गोप इन्द्रयज्ञ की तैयारी कर रहे है। सबकुछ जानने के बावजूद उन्होने अपने पिता से पूछा कि यह किस उत्सव की तैयारी हो रही है। नंदजी ने उन्हें बताया कि इन्द्र वर्षा करने वाले मेघों के स्वामी है। यह यज्ञ उनको प्रसन्न करने के लिए …

श्रीकृष्ण ने गोवर्धन पर्वत को क्यों उंगली पर उठाया?- भाग 23 Read More »

Scroll to Top