sugriv

राम-सुग्रीव मित्रता- भाग 36

राम-लक्ष्मण का रिष्यमुक पर्वत पर आना कबंध की सलाह के अनुसार राम सुग्रीव से मित्रता करने के लिए रिष्यमुक पर्वत पर आए। दो आयुधधारी वीर पुरुषों को देख कर सुग्रीव को आशंका हुई कि कहीं वे उनके शत्रु तो नहीं। उन्होने अपने मंत्री हनुमान को दोनों भाइयों के पास उनके आने का उद्देश्य पता करने …

राम-सुग्रीव मित्रता- भाग 36 Read More »